नहाने से पहले इन बातों का रखें ध्यान | Right Ways to Take Bath | INFOTREE

>
     
    <p class=On Aug. 11, 2021, 12:48 a.m. by Ashwin_Mishra

हमारे सनातन धर्म में हर क्रिया के लिए नियम आदि निर्धारित किये गए हैl सुबह उठने से लेकर शयन तक के सारे कर्म की विधि शास्त्रों में वर्णित है l शौच करना, दांत घिसना, स्नान करना आदि कर्म नित्य कर्म की श्रेणी में आते है l वहीं नहाना केवल सर पर पानी डालना मात्र नहीं है l हमरे ग्रंथो में स्नान करने के कई नियम बताए गए हैl जिन्हें न करने से आपको पछताना पड़ सकता है l

 

पानी की बर्बादी लाएगी आफत –

पानी जन जीवन के लिए एक बेहद ही आवश्यक घटक है l हमारे धर्मग्रंथो में भी जल को अमृत की संज्ञा दी गयी है l जो ये दर्शाता है की ये हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है l ऐसे में हमारे शास्त्र भी ये साफ निर्देश देते है की उतना ही पानी इस्तेमाल में लेना चाहिए जितनी की आवश्यकता हो l जो व्यक्ति बेवजह पानी को बर्बाद करता है उसे पांप का भागीदार बनना पड़ता है l वहीं उसे दरिद्रता का भी सामना करना पड़ता है l

 

निर्वस्त्र होकर कभी न नहायें, वर्ना पड़ेगा महंगा –

कुछ लोगो को बाथरूम में निर्वस्त्र होकर नहाने की आदत होती है l लेकिन आपको बता दें की निर्वस्त्र स्नान करने की आपकी ये आदत, आपके लिए अभिशाप भी बन सकती है l दरअसल शास्त्र कहतें है की स्नान करते वक्त शारीर पर कोई न कोई वस्त्र अवश्य होना चाहिए l मान्यता के मुताबिक जो लोग निर्वस्त्र होकर स्नान करते हैं, उनको कोई भी बाहरी बाधा एवं उनके ऊपर आभिचारण होने की सम्भावना अधिक होती है l 

 

नदी में स्नान करते वक्त रखें ध्यान –

अक्सर लोग नदी तालाब आदि के घांट पर स्नान करने जाते हैl ऐसे में किन बातों का ध्यान रखने की आवश्यकता है? आइये जानते है l

Tag: bathing properly , taking bath , how to take bath , right way to take bath , naked bathing demerits

Similar Blogs

There are no similar posts yet.